पाल अंगावर पडणे शुभ की अशुभ

लेडीस चड्डी बनियान

लेडीस चड्डी बनियान, उसके किसी दूसरे सेनिक का खाई में गिर जाना महज इत्तफाक नहीं हो सकता । वतन के दिमाग में यहीं तेजी से विचार कौंधा…'क्या उसके सिपाहियों के लिबास में कोई दुश्मन हैं अगर है-तो-तो । सोचकर वतन के होंठों पर मुस्कान दौड़ गई । हां.....शायद मुझे यही करना चाहिए था। सोचने के साथ ही सुरेश मानो स्वयं से कह रहा था- दिल के हाथों मजबूर होकर मैं ये कदम उस ट्रीटमेंट के विरुद्ध उठा गया, जो आपको सुधारने के लिए कर रहा था।

और फिर वो हुवा जिसके बारे में आदित्य ने सोचा भी नही था. चाकू के इतने वार हुवे उसके पेट पर की खून की नादिया बह गयी वाहा. आदित्य को तड़प्ता छोड़ वो गुंडे भाग गये वाहा से. जो लड़की किसी और लड़के को प्यार करती है तुमने उसके लिए अपना घर छोड़ दिया,हम सब से तुमने ऐसी गिरी हुई लड़की के लिए रिश्ते तोड़ लिए, राज के पापा ने कहा।

खाला ज़रीना गम के ऐसे दौर से गुज़री है कि इंसान की रूह काँप जाए. इंसान का खो जाना लाजमी है. अब इज़ाज़त चाहूँगा खाला. कुछ ज़रूरी काम है मुझे. फिर मिलेंगे. खुदा हाफ़िज़! लेडीस चड्डी बनियान पिट्स पर ही नजरें गड़ाए रघुनाथ ने कहा। रैना कुछ जवाब न दे सकी—पिट्स अब भी कोठी का चक्कर लगाता हुआ बार-बार हवा में कलाबाजियां खा रहा था, दोनों की नजरें अभी पिट्स पर जमी हुई थीं कि एक कार कोठी के लॉन में दाखिल हुई, रैना छिटककर रघुनाथ से अलग हो गई।

बीएफ सेक्सी इंडियन बीएफ सेक्सी

  1. राज ने उसे आंख से संकेत किया और आगे बढ गया । वह दो डिब्बों को मिलाने वाले प्लेटफार्म पर जा खड़ा हुआ और मारपीट की प्रतीक्षा करने लगा।
  2. ज़रीना के चेहरे पर अजीब कसम्कश थी. आदित्य उसकी ओर देख कर उसकी हालत समझ गया और उसके चेहरे पर हाथ रख कर बोला, सुन लो क्या कहते हैं ये लोग. हम हर हाल में एक हैं और एक रहेंगे.किसी बात की चिंता मत करना. मराठी देसी बीएफ
  3. -गुरु । विकास ने कहा…ज़ब मुझे खतरा स्पष्ट चमक रहा है तो सच, आराम से यहां बैठकर इतजार‘ नहीं होगी मुझसे । 'आने दे-मुझे तो तुझ पर प्यार आ रहा है।' शिवानी ने कहा और इसके साथ ही उसने डॉली पर झुककर उसके कपोल पर अपने होंठ रख दिए।
  4. लेडीस चड्डी बनियान...ज़रीना तो नज़रे झुकाए बैठी थी. शर्मा रही थी वो आदित्य से. उसने अपनी चुनरी से अपनी छाती को अच्छे से ढक रखा था. ठीक है सिमरन…सॉरी तुम लोगो को डिस्टर्ब करने के लिए पर मेरे पास कोई चारा नही था. ये मामला कोर्ट में पता नही कब तक लटका रहेगा. तुम तो लॉ स्टूडेंट हो ये बात बखूबी समझ सकती हो.
  5. मुझे अपने माता-पिता और बहन से बहुत प्यार था । फलवाली बूढी दादी मां से भी असीम प्यार करता था । न जाने क्यों मेरा दिल चाहता था कि मैं अपने माता-पिता की आवाज पुन: सुनूं मिस्टर राज - रोशनी हताशापूर्ण स्वर से बोली - जार्ज टेलर हमें कदम-कदम पर मात दे रहा है । मिलर इस महानगर में हमारा इकलौता मददगार था ।

बेटी और बाप की बीएफ

बेचन--- भाभी अपना पेटीकोट उठा कर झुक जा, अब तेरी बूर में अपना लंड डालूंगा और चोदूंगा नहीं तो तेरा bhandwa मर्द आ जायेगा।

आदित्य की फॅक्टरी का एक करम्चारी, रमेश आदित्य से कुछ पेपर्स पर साइन लेने उसके घर पहुँचा तो उसने आदित्य को वाहा खून से लटपथ पाया. तुरंत किसी तरह आंब्युलेन्स बुलाई उसने और आदित्य को हॉस्पिटल ले जाया गया. आपको मेरे कमल की सौगंध, कृपया आप अब यहाँ आना हमेशा के लिए बंद कर दीजिए. राधा ने अपना मूह दूसरी ओर फेर कर कहा.

लेडीस चड्डी बनियान,कहने को वतन ने कह तो दिया, किन्तु प्रतिक्रियास्वरू� � उसने जब हबानची का चेहरा देखा, जो किसी शुगरमिल के बायलर की तरह तप रहा था । नेत्र मानो मोटे-मोटे खून के गोले बन गये थे ।

ज़रूर कोई बात रही होगी मौसी वरना आदित्य ज़रूर आता. बहुत प्यार करता है वो मुझे. मुझे जाने दो मौसी. अगर वो नही आ पाया तो मैं चली जाती हूँ. मैं नही रह सकती उसके बिना ज़रीना रोने लगी थी ये बोलते हुवे

अब करते हो,पहले से नही। वो मुझे बहुत पहले से प्यार करता था। जितना तुमने मेरे साथ किया है उतना सतीश भी मेरे लिए करता।ब्लू बीपी ब्लू बीपी

मैंने तुमसे बाहर गुजारे गए टाइम का हिसाब नहीं मांगा। उसकी बात बीच में ही काटकर विनीता ने लापरवाही के साथ कहा। उसी क्षण काटेज की घन्टी बज उठी । राज वापिस ड्राईगरूम में आ गया और खिड़की का पर्दा सरकाकर बाहर झांका | बाहर एक पुलिसमैन और उसकी बगल में एक गंजा अंग्रेज खड़ा था।

राज बहुत तेज़ी से उँचाई पर जा रहा था। उसके पास पैसों की कोई कमी नही रह गयी थी अब वो शहर के अमीर लोगों में एक था। शहर में उसका नाम भी हो गया था। बाहर की दुनिया को राज ने आबाद कर लिया था लेकिन दिल की दुनिया आज भी बर्बाद थी। जिंदगी में पैसा तो था लेकिन खर्च करने वाली नही।

एक घण्टा पहले और अब के हालतों में जमीन-आसमान का अन्तर आ गया है, अतः पिछली सारी रणनीति को भूलकर नए सिरे से, नई स्थिति पर गौर करके हमें भविष्य के लिए नई रणनीति तैयार करनी होगी।,लेडीस चड्डी बनियान फिर जब उनकी गाड़ी आगे बढ़ गई तो युवक ने रिवाल्वर जेब में रखी और डॉली के समीप आकर उससे बोला- 'आप यहां क्या कर रही थीं?'

News