ಸೆಕ್ಸ್ ಬಿಎಫ್ ಸೆಕ್ಸ್

किन्नर की गांड मारी

किन्नर की गांड मारी, वीना – थोड़ा कुछ दिन इस जख्म की केर रखना, वैसे सब ठीक है, हो सका तो दो दिन बाद मे खुद आपको आपके घर आकर चेक कर लूँगी, इसी बहाने आपके वृंदावन के भी दर्शन हो जाएँगे… मैं पीछे पीछे गया तो देखा वह किचन मे मोम के पास जाकर खड़ी हो गई थी, मैं भी उसके पीछे किचन मे चला गया और

जैसे ही बाहर आया तो देखा की बाहर का दरवाज़ा लॉक है और रसोई से बर्तनों की आवाज़ आ रही है, मैं समझ गया कि रेणुका ही होगी… मेने मुस्कराते हुए कहा – ये सब आप मुझ पर छोड़ दीजिए… भले ही इसके लिए मुझे आंटी से सिफारिस क्यों ना करनी पड़े…!

निशा ज़्यादा चल फिर नही सकती थी, सो उन तीनो को एक सेफ जगह बिठाकर, एक वेटर को उनका ख्याल रखने के लिए छोड़ दिया…! किन्नर की गांड मारी आज़ाद होते ही उसकी बेहतरीन चूचियों पर मैंने अपने नाक से हर जगह की खुशबू लेनी शुरू की, पूरी की पूरी चूची इतने मदहोश कर देने वाली खुशबू छोड़ रही थी कि बस जी कर रहा था कि ऐसे ही उसकी पूरी खुशबू को अपनी साँसों में बसा लूँ।

ಕಲ್ಯಾಣಿ ರೆಕಾರ್ಡ್

  1. भैया कुछ देर चुप रहे… फिर बोले – देखो प्राची ! मे जानता हूँ, कि हम दोनो की उम्र में काफ़ी अंतर है… लेकिन क्या करूँ, दिल तो आख़िर दिल ही है ना…
  2. उसकी दूसरी चूची को मुँह में भरने से वंदना को एक बार फिर से उत्तेजना हुई, मेरे दूसरे हाथ ने अब उसकी वो चूची थाम ली जिसे मैंने चूस चूस कर गीला कर दिया था। चोदी चोदा वाला वीडियो दिखाओ
  3. क्या मस्त नजारा था… वो दीवार पर अपना बदन टिकाये अपनी जाँघों को फैलाये अपने हाथों से अपनी चूत को मसल रही थी। 'हाहा...अच्छा जी. चलो कोई बात नहीं अब तो तुम यहीं हॉस्टल में रहा करोगी, सो जब मैं दिल्ली आया करूँगा तो तुम यहाँ आ जाया करना मेरे पास हॉटेल में.' जयसिंह का आशय अभी मनिका कैसे समझ सकती थी, सो वह खुश हो गई और बोली,
  4. किन्नर की गांड मारी...उनके दिल्ली स्टे की आठवीं शाम जब वे अपने हॉटेल रूम में लौटे थे तो जयसिंह आ कर काउच पर बैठ गए थे. मनिका बाथरूम जा कर हाथ-मुहँ धो कर आई थी, जयसिंह ने उससे पूछा, मैं अपने आप पर हंस पड़ा… मैंने अब भी उसकी चूत को नहीं छोड़ा था और अपने जीभ से हौले-हौले उसकी चूत को छेड़ रहा था… मेरी हर हरकत वंदना को और भी पागल बना रही थी और वो जल बिन मछली की तरह तड़प रही थी।
  5. भैया बुरी तरह शर्मा गये.. और नज़रें झुका कर बोले – हां ये सच है.. लेकिन तुझे ये सब कैसे पता है..? क्या उसने सब कुछ बता दिया तुझे…? मैं बिना रुके अपनी पूरी ताक़त से लंड को चूत की गहराइयों में उतारता रहा और वंदना के ऊपर पूरी तरह से छा कर धका-धक पेलता रहा।

बीएफ हिंदी पिक्चर दिखाओ

मैं जैसे ही किचन मे गया मेरी निगाहे तो दोनो के चुतडो पर थी पर जैसे ही दोनो ने मुझे देखा मैने अपनी नज़रे उनके चेहरे की ओर कर ली, दोनो एक दूसरे को देख कर मंद मंद मुस्कुरा रही थी, मैने एक नज़र दोनो को उपर से नीचे देखा और पानी की बोटल लेकर बाहर आ गया लेकिन किचन से सॅट कर खड़ा हो गया

मेने फिर कहा – देखो अब शर्म छोड़ो…और देखो मेरी तरफ… तो उसने धीरे से अपनी आँखों को खोला…और जैसे ही उसकी नज़र मेरे 8 लंबे और गोरे लंड पर पड़ी…. नन्ही – हन भाई जान.., पर इस गाड़ी में लगता है पैर रखने की भी जगह नही बची.., फिर वो संजू की तरफ इशारा करके बोली – ये भाई भी आपके साथ हैं क्या..?

किन्नर की गांड मारी,उसने भरपूर नज़र मेरे चेहरे पर डाली और फिर मेरी आँखों में आँखें डालकर बोली – मेरी नज़र में आप किसी फिल्मी हीरो से कम नही हैं,

मेरी आँखों की भाषा समझते ही उसने शर्म से अपनी आँखें झुका लीं और और मेरे सीने में अपना सर छुपा कर अपनी उँगलियों से मेरी पीठ को सहलाना शुरू किया।

नशे की लत ने मुझे अब ये भी सोचने से रोक दिया कि मुझे कुछ करना चाहिए.., दिन, महीने, साल इसी तरह गुजर गये.., एक दिन छकोर बीमार पड़ गयी..,एक्स एक्स वीडियो पाकिस्तान

फिर काफ़ी तलाश करने के बाद उन्हें एक उजाड़ पड़ी हवेली का पता चला वो भी वहाँ के कुछ बेरोज़गार युवकों की मदद से. ‘कहाँ खो गए जनाब… हमें ड्यूटी पे लगा ही दिया है तो अब कम से कम यह दूध तो ले लीजिये।’ उसने शरारती अंदाज़ में शिकायत करते हुए कहा।

वो मेरे मुँह की तरफ देखने लगी और सिसक कर बोली – ससिईइ….हइई…मुँह में कैसे लेलुँ… ये तो मूतने वाली चीज़ है…

चार पैसे जुटाने की धुन में मेने एक जगह चोरी करने की कोशिश की लेकिन हाए रे मेरी फूटी किस्मेत, पहली बार में ही धर लिया गया…!,किन्नर की गांड मारी सही मौका ताड़ मेने अपने मूसल को हाथ में लिया, उसे मेघना को दिखाकर दो-तीन बार मसला, उसे दरवाजे की तरफ करके मुठियाने लगा…

News